ABOUT THE INSTITUTE
..............................................
MESSAGES
..............................................
COURSES
..............................................
TIME TABLE
..............................................
RESULT
..............................................
RULES & REGULATION
..............................................
OUR PUBLICATION
..............................................
DOWNLOAD FORM
..............................................
GALLERY
..............................................
SYLLABUS
..............................................
NIMSE  AM College
..............................................

CG COUNCIL OF A.M

..............................................
SWASHTHYA SEVAK
..............................................
SWASTHYA MITRA  PRASIKSHAN KARYAKRTAM CG
..............................................
INSTITUTE OF PARA MEDICAL
..............................................
INSTITUTE OF FIRE AND SAFETY
..............................................
CHHATTISGARH COUNCIL OF SCHOOL & PROFESSIONAL EDUCATION (C.G.)
..............................................
REGISTRATION
 
Welcome to our website
  SWATHYA MITRA
योजना प्रारूप

छत्तीसगढ स्वास्थ्य मित्र
प्रशिक्षण कार्यक्रम/
पंचायतवार डाॅक्टर खोज अभियान 2011

द्वारा संचालित:-
लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान
लोरमी, जिला - बिलासपुर (छ.ग.)


छत्तीसगढ़ सोसायटी रजिस्ट्रीकरण अधिनियम 1973 (44) के अधीन पंजीकृत,
पंजीयन क्रमांक छ.ग. राज्य 1411

माननीय जबलपुर उच्च न्यायालय द्वारा वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का पठन-पाठन
पुर्णतः वैघ घोषित पिटिसन नंबर 5553/1998,

भारतीय संविधान की धारा 19 (1) ह के तहत कार्यरत




स्ंाचालक




1. योजना का नाम -
स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़/पंचायतवार डाॅक्टर खोेज अभियान 2011

2. योजना अवधि -
अधिकतम 5 वर्ष मेें संपुर्ण छत्तीसगढ़ के सभी पंचायतों में से प्रत्येक एक हजार की जनसंख्या के लिए एक छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र का चयन कर उसे वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रशिक्षण पत्राचार माध्यम से दिया जावेगा। एवं उसे उनके ही पंचायत में निश्चित कर्तव्यों के पालन के लिए पंजीकरण किया जावेगा।

3. कार्यक्षेत्र -
संपुर्ण छत्तीसगढ़

4. योजना प्रस्तावना -
इस कार्यक्रम के तहत छत्तीसगढ़ के सभी पंचायत से प्रति एक हजार की जनसंख्या पर एक 10 वीं /12 वीं उत्र्तीण व्यक्ति को 10 माह तक क्पचसवउं पद च्तपउंतल भ्मसजी ब्ंतम थ्तवउ ंसजमतदंजपअम उमकपबपदम वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली (प्राकृतिक चिकित्सा, योग चिकित्सा, एक्युप्रेसर चिकित्सा , एक्युपंचर चिकित्सा, बायोकैमी चिकित्सा, इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा, पुष्प चिकित्सा, मसाज चिकित्सा एवं अन्य वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली) का प्रशिक्षण दिया जावेगा। प्रशिक्षण पश्चात् प्रशिक्षण का प्रमाण
पत्र दिया जावेगा।
इस कार्यक्रम के तहत सभी पंचायत के सभी झोलाझाप/अप्रशिक्षित/अपंजीकृत चिकित्सकों को अल्टरनेटिव मेडिकल सिस्टम में पत्राचार से प्रशिक्षण, मार्गदर्शन शिक्षा देकर झोलाझाप अप्रशिक्षित चिकित्सकों की संख्या कम करना है। उन्हे वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली (बायोकैमी, इलेक्ट्रोहोम्योपैथी, हर्बल, चुम्बक, एक्युप्रेसर, योग, ध्यान, रैकी, गौ मुत्र चिकित्सा आदि वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली) में प्रशिक्षित करना है।
वर्तमान में झोलाझाप चिकित्सक प्रशिक्षण, धन, समय एवं रोजगार के अभाव में कही से थोडे़ जानकारी लेकर सीधे एलोपैथी एवं आर्युवेदिक चिकित्सा प्रणाली का प्रयोग कर रहे है, जो शासन के नियमोे का खुला उल्लंघन है, जो गैर कानुनी एवं दंडनीय अपराध है। झोलाझाप चिकित्सक जनता को लाभ पहुचाने के साथ हानि भी पहुचा रहे हैै। इस लिए संस्थान इनको वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली की शिक्षा देकर इनको वैकल्पिक चिकित्सा पद्वति में लोगो का प्राथमिक चिकित्सा करने की शिक्षा प्रदान करना
चाहती है।
सफलता पूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त करने के पश्चात् लोगों को स्वास्थ्य विषयक शिक्षा देंगे
एवं आवश्यकता पड़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार करेगे। अपने गांव के सभी लोंगों को जागरूक करेंगे, उन्हें स्वास्थ्य विषयक जानकारी प्रदान करेंगे, उन्हें पुराने रूढ़ीवादी विचारधारा एवं परंपराओं से बाहर निकालने का प्रयास करंेगे।


5. योजना प्रारंभन -
प्रथम/द्वितीय/त््ृतीय साल - बिलासपुर जिला
जांजगीर जिला
कोरबा जिला
रायगढ़ जिला
कोरिया जिला
दुर्ग जिला
कबीरधाम जिला
रायपुर जिला
जशपुर जिला
सरगुजा जिला
राजनांदगांव जिला
महासमंुद जिला
धमतरी जिला
चर्तुथ/पंचम साल - जगदलपुर जिला
कांकेर जिला
दंतेवाड़ा जिला

6. छत्तीसगढ़ में उपलब्ध स्वास्थ्य सेवाएं -
छ.ग. की जनसंख्या 2,07,95,956 है, जिनके लिए
6 जिला अस्पताल - 34,65,992 लोगों के लिए एक जिला अस्पताल
34 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र - 6,11,645 लोगों के लिए एक सामुदायिक स्वास्थ्य कंेद्र
512 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र - 40,617 लोगों के लिए एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र
3818 उपस्वास्थ्य केंद्र - 5,446 लोगों के लिए एक उपस्वास्थ्य केंद्र

उपरोक्त उपलब्ध स्वास्थ्य सेवाएं पर्याप्त नही है, जिनके अभाव में गांव के लोग गांव के कथित झोलाछाप डाॅक्टर (जिन्होनें ना कही से प्रशिक्षण लिया है, और ना ही जिनका कही पंजीयन है) से इलाज कराने मजबुर है, जो लोगांे को कुछ लाभ पहुचाने के साथ अधिक हानि पहुचा रहे हेै, साथ ही मरीज का मनमानी ढ़ंग से शोषण कर रहे है।
इन सभी परिस्थितियों से बचने के लिए प्रत्येक पंचायत में एक 10 वी उत्र्तीण व्यक्ति को एक वर्ष प्रशिक्षण वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रशिक्षण दिया जावेगा जो प्रशिक्षण पश्चात् गांव में लोगो को स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान करेगे एवं लोगों का वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार करेंगे। साथ ही संचालित स्वास्थ्य सेवाओं के क्रियान्वयन में सहयोग करेंगे।

7. - इस कार्यक्रम के तहत छत्तीसगढ़ के सभी 146 विकास खंडोें से चयन कर एवं प्रशिक्षण के लिए छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र/अल्टरनेटिव मेडिकल प्रेक्टीसनर -2,07,95,956 लोगो के लिए 20795 छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र/अल्टरनेटिव मेडिकल प्रेक्टीसनर, प्रत्येक पंचायत से एक 10 वीं उत्र्तीण को एक वर्ष तक वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रशिक्षण दिया जावेगा।

8. जिलेवार जानकारी -
चयन कर प्रशिक्षण दिए जाने वाले स्वास्थ्य मित्र/अल्टरनेटिव मेडिकल प्रेक्टीसनर

क्र. जिला पंचायत जनसंख्या चयन किए जाने वाले

1. बिलासपुर 825 19,93,042 1993
2. जांजगीर 528 13,16,140 1316
3. कोरबा 347 10,12,121 1012
4. रायगढ़ 673 12,65,084 1265
5. कोरिया 230 5,85,455 585
6. दुर्ग 945 28,01,757 2801
7. कबीरधाम 329 5,84,667 584
8. रायपुर 1131 30,09,042 3009
9. जशपुर 410 7,39,780 739
10. सरगुजा 977 19,70,661 1970
11. राजनांदगांव 630 12,81,811 1281
12. महासमंुद 474 8,60,176 807
13. धमतरी 296 7,03,569 703
14. जगदलपुर 585 13,02,253 1302
15. कांकेर 375 6,51,333 651
16. दंतेवाड़ा 374 7,19,065 719




9. योजना लाभ एवं महत्व -
इस कार्यक्रम के अन्र्तगत 2,07,95,956 लोगो के लिए 20795 अल्टरनेटिव र्मेिडकल प्रेक्टीसनर (छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र) का चयन कर उन्हें संस्था द्वारा एक वर्ष तक पत्राचार से प्रशिक्षण दिया जावेगा। जो छत्तीसगढ़ के लिए पर्याप्त संख्या है।
हमारे संस्था के सभी अल्टरनेटिव र्मेिडकल प्रेक्टीसनर (छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र) लोगो को स्वास्थ्य विषयक जानकारी (स्वास्थ्य शिक्षा) प्रदान करंेगे और आवश्यकता पड़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्र्रणाली द्वारा प्राथमिक करेंगे एवं उन्हे शासकीय अस्पताल तक ले जाने मे मदद करेगे।
छत्तीसगढ़ के सभी पहुच विहीन गांव के लोगो को इस तरह से स्वास्थ्य शिक्षा और प्राथमिक उपचार एवं मार्गदर्शन मिल पाएगा, जिससे छत्तीसगढ़ की जनता राहत महसूस करंेगे।

10. प्रशिक्षण कार्यक्रम के उद्देश्य -
1. लोंगों मेें स्वास्थ्य जागरूकता लाना।
2. पहुच विहीन एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे प्रशिक्षित व्यक्ति (छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र) गांव में उपलब्ध (अपने प्रशिक्षण कार्यक्रम से प्रशिक्षित कर) कराना जो लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करा सके।
3. प्रत्येक गांव में ऐसे जन सेवक तैयार करना जो आवश्यकता पड़़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार करे और उन्हेे जागरूक करे।
4. स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में शासन द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन में सहयोग करना एवं उनकी विस्तृत जानकारी देना एवं ग्रामीण जनता को लाभ लेने के लिए प्रेरित करना।
5. गांव के लोगो को सभी रोगो के बारे जानकारी एवं उनसे बचाव के साधनों के प्र्रयोग के लिए प्रेरित करना।
6. स्वास्थ्य क्षेत्र के भ्रांतियों एंव अंधविश्वासों को दुर करने का प्रयास करना।
7. प्रत्येक गांव की झोलाझाप/अप्रशिक्षित चिकित्सकों की सुची तैयार करना, एवं उन्हें उनके आवेदन पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली मे 10 माह तक पत्राचार से प्रशिक्षण/मार्गदर्शन उपलब्ध कराना।

11. प्रशिक्षण अवधि -
प्रत्येक पंचायत से एक 10 वीं उत्र्तीण व्यक्ति को 10 माह तक पत्राचार से वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रशिक्षण दिया जावेगा।

12. अनिवार्य योग्यता -
कम से कम 10 वीं अथवा 12 वीं उत्र्तीण



13. चयन प्रक्रिया -
छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र/अल्टरनेटिव र्मेिडकल प्रेक्टीसनर का चयन ग्राम पंचायत के ही योग्य महिला/पुरूष (10वीं/12वीं उत्र्तीण) से आवेदन लेकर सर्वाधिक योग्य महिला/पुरूष का चयन कर भेजेेगे ।
वर्तमान झोलाझाप प्रेक्टीसनर आवेदक को अन्य आवेदक पर प्राथमिकता दी जावेगी।

14. प्रशिक्षण -
छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र/अल्टरनेटिव र्मेिडकल प्रेक्टीसनर का पत्राचार माध्यम से प्रशिक्षण दिया जावेगा। आवेदक किसी पंजीकृत चिकित्स के पास रहकर प्रशिक्षण लेगा अथवा अध्ययन सामाग्री लेकर स्वयं अपने घर में अध्ययन करेगा।

15. प्रशिक्षक/मार्गदर्शक -
प्रशिक्षण के लिए इच्छुक आवेदक किसी पंजीकृत चिकित्सक के पास रहकर प्रशिक्षण लेगा अथवा अध्ययन सामाग्री लेकर स्वयं अध्ययन करेगा।

16. योजना संचालन फंड -
शासन के सहयोग से संचालन
अथवा
प्रशिक्षणार्थी से कुछ प्रशिक्षण शुल्क एवं दान लेकर

17. छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य सेवक के कर्तव्य
1. लांेगों को स्वास्थ्य विषयक जागरूक करना।
2. लोगों को सभी रोंगों से बचाव के उपायों के बारे में बताना ।
3. लोगों को सभी रोगों के बारे में बताना कि रोग कैसे फैलता है इनसे कैसे बचाव किया जा सकता है। इनके हानिकारक प्रभाव क्या-क्या है, ये हमे किस प्रकार से प्रभावित करते है, इनसे हमें किस तरह की जन धन की हानि होती है।
4. स्वास्थ्य सेवाओं के क्षे़त्र में शासन द्धारा संचालित योजनाओं के बारे में लोंगोें को बताना एवं उनसे लाभ लेने के लिए प्रेरित करना।
5. स्वास्थ्य सेवाओं के क्षे़त्र में शासन द्वारा संचालित योजनाओं के क्र्रियान्वयन मेे सहयोग करना।

6. लोगों का स्वास्थ्य शिक्षा देना एवं आवश्यकता पढ़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली (योग चिकित्सा प्रणाली, प्राकृतिक चिकित्सा प्रणाली, एक्युप्रेशर चिकित्सा प्रणाली, एक्युपंचर चिकित्सा प्रणाली, बायोकैमिक चिकित्सा प्रणाली, चुम्बक चिकित्सा प्रणाली, पष्प चिकित्सा प्रणाली, मसाज चिकित्सा प्रणाली, एवं अन्य वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली ) द्वारा प्राथमिक उपचार कर लोगों को राहत देना।
7. क्षेत्र में किसी प्रकार की गंभीर बिमारी अथवा महामारी फैलने की पहली सूचना तत्काल स्वास्थ्य केंद्र को देना ।
8. लोंगों को साफ सुथरा रहने की प्रेरणा देना।
9. गांव में लोंगों को ओ. आर. एस की घोल बनाने तथा अतिसार से बचाव और इलाज की सही जानकारी देना।
10. विवाह, गर्भवती महिलाओं, जन्म तथा मष्त्यु का पंजीयन करवाने की प्रेरणा देना।
11. गांवों में सभी गर्भवती माताओं को तीन बार प्रसव पुर्व जांच करवाने की प्रेरणा देना।
12. गांव के सभी गर्भवती महिलाओं को अस्पताल में प्रसव कराने की प्रेरणा देना, यदि वे अस्पताल में प्रसव के तैयार ना हो तो प्रशिक्षित दाई से सुरक्षित प्रसव कराने की प्र्रेरणा देना।
13. गांव के लोंगों को परिवार नियोजन के साधनोें के विषय में समझाना तथा कंडोम एवं ओरल विल्स एवं अन्य सभी साधनों के बारे में जानकारी देना और इनके उपयोग की प्रेरणा देना।
14. गांव के सभी पेयजल स्त्रोतों में प्रति सप्ताह नियमित रूप से ब्लीचिंग पावडर डालकर शुद्धिकरण करने के लिए प्रेरित करना।
15. गांव के सभी लोंगों को पीने के पानी में क्लोरिन की गोली डालकर उपयोग करने की सलाह देनां
16. गांव के लोगों को कम उम्र में विवाह न करने की सलाह देना।
17. गांव के निवासियों के पोषण को बेहतर बनाने के लिए प्रयास करना एवं लोंगों को पोषण संबंधी विस्तृत जानकारी देना।
18. गांव की रोगी का रजिस्टर बनाना।
19. गांव के निवासियों के स्वास्थ्य को उन्नत बनाने के प्रयास करना एवं लोंगों को स्वास्थ्य को उन्नत बनाने संबधी जानकारी प्रदान करना।
ृ 20. गांव के सभी झोलाझाप चिकित्सकों की सुची तैयार करना एवं उसे संस्थान के पास भेजना।
विवरणिका
2011
प्रवेश के लिए आवेदन पत्र सहित


स्वास्थ्य मित्र
प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
/पंचायतवार डाॅक्टर खोज अभियान 2011



द्वारा संचालित:- लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान, लोरमी, जिला - बिलासपुर (छ.ग.)
प्रधान कार्यालय:- स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ/पंचायतवार डाॅक्टर खोज अभियान 2011, शासकीय कालेज के पास, मेन रोड लोरमी, जिला-बिलासपुर (छ.ग.) 495115
मोबाइल- 07898969589, 09424157138



कार्यालय, संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ

पत्र जावक क्रमांक:- स्वामित्र/सुचना/पंचायतवार/2011/ दिनांक 01.01.2011
प्रति,
श्रीमान् सरपंच महोदय,
ग्राम पंचायत ................................. वि. ख. ...................................
जिला .............................................. छत्तीसगढ़
विषय:- स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़ की सुचना विषयक।
महोदय,
हमारी संस्था ‘‘लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान’’ छत्तीसगढ़ शासन से पंजीकृत, पं. कं्र. छत्तीसगढ़ राज्य 1411, जो स्वास्थ्य जागरूकता अभियान चला रही है, इसके अंर्तगत प्रत्येक एक हजार की जनसंख्या के लिए एक ‘‘छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र’’ जिसको आप चयन करके भेजेंगे। चयनित आवेदक को 10 माह तक वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रशिक्षण/मार्गदर्शन पत्राचार माध्यम से दिया जावेगा।
सफलतापुर्वक परिक्षा उत्तीर्ण करने के उपरांत ये ‘‘छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र’’ गांवों में लोंगो को स्वास्थ्य शिक्षा प्र्रदान करेंगे और आवश्यकता पड़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार करेंगेे। इनको परिक्षा पश्चात् प्रमाण पत्र दिया जावेगा। ‘‘छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र’’ वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रयोग करेंगे।
कृपया आप अपने पंचायत के 10वीं उत्तीर्ण महिला/पुरूष/झोलाझाप चिकित्सक से आवेदन लेकर सर्वाधिक योग्य महिला/पुरूष का चयन कर भेजे। साथ आप अपने पंचायत के झोलाझाप/अप्रशिक्षित चिकित्सको एवं प्रशिक्षित चिकित्सकों की सुची भेजने की कृपा करे।

नोट:- यह कार्यक्रम पुर्णतः जनहित मे संस्था द्वारा संचालित कार्यक्रम है। आप इस कार्यक्रम को सफल बनाने में सक्रिय भागीदारी निभाकर कार्यक्रम को सफल बनावे।
हमें अपार खुशी होगी।

भवदीय
संचालक
अधिक जानकारी एवं चयन सुची भेजने के लिए संपर्क करे:-
प्रधान कार्यालय:- आचार्य डी.पी. जोशी, संचालक़ स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ,
शासकीय कालेज के पास, मेन रोड लोरमी, जिला-बिलासपुर (छ.ग.) मोबाइल 07898969589, 09424157138

स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
चयन मार्गदर्शिका सरपंचों के लिए
1. प्रशिक्षण की सुचना गांव के सभी 10वीं उत्र्तीण लोगों एवं सभी झोलाझाप/अप्रशिक्षित/अपंजीकृत चिकित्सकों को संपुर्ण जानकारी देकर उनसे आवेदन आमंत्रित कर लेवें।
2. सर्वाधिक योग्य आवेदक का चयन करे उनके अनुभव एवं व्यवहार को महत्व देवे।
3. प्रशिक्षण कार्यक्रम में चयन के लिए सामान्य आवेदक से झोलाझाप/अप्रशिक्षित चिकित्सक को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। क्योकि यह कार्यक्रम विशेषकर झोलाझाप चिकित्सको को वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का प्रशिक्षण देने के लिए आयोजित की गयी है। इस कार्यक्रम के द्वारा अवैध प्रेक्टीस में कमी लाने का प्रयास किया गया है।
4. प्रशिक्षण कार्यक्रम में चयन के लिए सरपंच का निर्णय स्वीकार एवं मान्य निर्णय होगा। विवाद की स्थिति में संचालक का निर्णय अंतिम होगा।
5. प्रशिक्षण कार्यक्रम में चयन के लिए आवेदन शुल्क अधिकतम 500/-रू. नगद सरपंच चाहे तो ले सकता है। आवेदक को आवेदन शुल्क सरपंच को देना होगा। कार्यालय से आवेदन विवरणिका निःशुल्क भेजी जाती है।
6. प्रशिक्षण कार्यक्रम में चयन करने से पुर्व आवेदक से पुछ लेवे कि वह नांमांकन शुल्क 1500/-रू. दे सकता है अथवा नही साथ उसे अध्ययन सामाग्री अलग से खरीदना होगा/परिक्षा/पंजीयन शुल्क अलग से देय होेगा। केवल शुल्क दे सकने वाले आवेदक का चयन करे।
7. आवेदन पत्र के साथ नांमांकन शुल्क का डी.डी. ‘‘संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़’’ के नाम पर बिलासपुर देय में ही स्वीकार एवं मान्य होंगे। नगद कही भी देने पर हमारी कोई जिम्मेदारी नही होगी। आवेदन पत्र डी.डी के साथ केवल पंजीकृत डाक से दिनांक ............... के पुर्व भेजे।
8. आवेदन पत्र के साथ डी.डी. निर्धारित तिथि तक प्राप्त होने के पश्चात् आवेदक के पास नांमांकन कार्ड एवं पाठ्यक्रम सिलेबस भेजा जावेगा।
9. आवेदन पत्र के साथ शपथ पत्र तहसील से नोटरी कराकर, प्रमाणीकरण फार्म सरपंच से प्रमाणित करा कर, एवं शुल्क राशि का डी.डी. पंजीकृत डाक से आवेदक द्वारा भेजना होगा।
आवेदन पत्र के साथ संलग्न करे:-
1. 8वी, 10वी, 12वीं अंकसुची की छायाप्रति 2 प्रति
2. निवास प्रमाण पत्र की छायाप्रति 2 प्रति
3. नामांकन शुल्क राशि 1500/-रू का डी.डी. (किसी भी नजदीकी बैक से बनवाएं) ‘‘संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़’’ के नाम पर बिलासपुर में देय,
4. सरपंच का प्रमाणीकरण फार्म , सरपंच से प्रमाणित मुल प्रति
5. शपथ पत्र, नोटरी करा कर
नोट:-
1. आवेदक को बता देवे की सभी प्रकार की शुल्क/दान जमा होने के पश्चात् वापसी योग्य नही है।
2. शुल्क केवल डी.डी. के रूप में ही मान्य एवं स्वीकार होंगंे।
3. प्रशिक्षण पत्राचार माध्यम से होगा। आवेदक संस्थान द्वारा निर्धारित सिलेबस के आधार पर अध्ययन सामाग्री लेकर घर में अध्ययन करेगा । अथवा किसी भी पंजीेकृत चिकित्सक के मार्गदर्शन में उसके पास रहकर अध्ययन करेगा।
4. आवेदक का चयन होने के पश्चात् आवेदन फार्म भरकर, सभी प्रपत्र के साथ नामांकन शुल्क का डी.डी. पंजीकृत डाक द्वारा प्रधान कार्यालय के पते पर भेजना होगा।
प्रधान कार्यालय का पता:-
आचार्य डी.पी. जोशी, संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम,छत्तीसगढ़, शासकीय कालेज के पास, मेन रोड लोरमी, जिला-बिलासपुर (छ.ग.) 495115






स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
प्रवेश आवेदन पत्र
(आवेदक द्वारा भरा जावे)
प्रति,
श्रीमान् संचालक महोदय
स्वास्थ मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
ब्व्न्त्ैम् रू.क्प्च्स्व्ड। प्छ च्त्प्ड।त्ल् भ्म्।स्ज्भ् ब्।त्म् थ्त्व्ड ।स्ज्म्त्छ।ज्प्टम् डम्क्प्ब्प्छम्
विषय - प्रवेश प्रदान करने विषयक ।
महोदय,
उपरोक्त विषयान्र्तगत निवेदन है कि मै संस्था (लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान) के द्वारा निर्धारित सभी नियमों एवं मानदंडो से अवगत हुं , जो मुझे स्वीकार्य है । अतः प्रवेश प्रदान करने की कृपा करे। नामांकन शुल्क का डी.डी. क्र. .........................बैक का नाम .............................................. जारी दिनांक ........................ राशि 1500/-रू. का डी.डी. संलग्न है।
...............................
आवेदक के हस्ताक्षर.
आवेदक का घोषणा पत्र
1. अभ्यर्थी का पुरा नाम श्री/श्रीमति/कु. ...............................................................................................
2. पिता/पति श्री .......................................................माता का नाम श्रीमति..........................................
3. जन्म तिथि (अंको में) .............................................. शब्दो में .......................................................
4. आयु 01 जनवरी 2011 को आयु वर्ष ...........................माह ................................दिन .........................
5. जाति................................ वर्ग (अनु. जाति/अनु जन जाति/पिछड़ा वर्ग/सामान्य) .........................................
6. स्थायी पता ग्राम .................................... पोस्ट.......................................... तह. ..........................
जिला .................................................... छ.ग. फोन नंबर ........................................................
7. वर्तमान पता ग्राम .......................... गा्रम पंचायत ...................... पोस्ट......................... तह. ................
जिला .................................................... छ.ग. मोबाइल नंबर .....................................................
8. शैक्षणिक योग्यता ........................... विवि/बोर्ड ..................................................... सन्...................
9. मेडिकल अनुभव एवं योग्यता अगर हो तो विवरण देवे ...............................................................................
10. प्राइवेट प्रेक्टीस करते हो तो कब से विवरण देवे .....................................................................................

उपरोक्त सभी जानकारी मेरे ज्ञान एवं अनुभव के आधार पर सत्य व सही है। अतः मुझे प्रवेश प्रदान करने की कृपा करे। मैनें संस्था के सभी नियम एवं शर्तो को पढ़ एवं समझ लिया है, साथ ही श्रीमान् सरपंच महोदय द्वारा समझा दिया गया है। मुझे संस्था के सभी नियम शर्ते मान्य है। संस्था के हित को ध्यान में रखते हुए, संस्था के उद्देश्यों (स्वास्थ्य शिक्षा एवं वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार परिक्षा उत्र्तीण करने के उपरांत अवश्य करूंगा) को पुरा करने के लिए कार्य करूंगा। संपुर्ण फार्म में दी गई सभी जानकारी पुर्णतः सत्य है ।

स्थान .................. ..................................... ......................................
दिनांक ................. पिता/पति/पालक के हस्ता. आवेदक/घोषणा कर्ता के हस्ताक्षर.



समक्ष नोटरी महोदय
आवेदक का शपथ पत्र
(स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़ में प्रवेश के लिए)

मै ........................................................... पिता/पति .................................................
पता .......................................................................................................................
शैक्षणिक योग्यता ............................................ जन्मतिथि ...................................................शपथ पुर्वक वचन देता हुं कि उपरोक्त दी गई जानकारी एवं आवेदन मे दी गई जानकारी पुर्णतः सत्य व सही है।
1. संस्थान (लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान) के स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के सभी नियमों/अनुशासन का पालन अवश्य करूंगा/करूंगी।
2. पाठ्यक्रम का अध्ययन पत्राचार माध्यम से अपने घर में ही संस्थान के सिलेबस के अनुसार प्रतिदिन 4 घंटे 10 माह तक अवश्यक करूंगा/करूंगी। अथवा चिकित्सक के मार्गदर्शन में करूंगा/करूंगी।
3. परिक्षा में सफलता उपरांत ‘‘छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र’’ के कर्तव्य जो संस्थान द्वारा निर्धारित की गई का पालन अवश्य करूंगा/करूंगी।
4. संस्थान से समय-समय पर प्राप्त होने वाले सभी आदेशो, निर्देशों का पालन अवश्य करूंगा/करूंगी।
5. सभी प्रकार के शुल्क/दान केवल डी.डी. के रूप में ही जमा करूंगा/करूंगी। जमा होने के पश्चात् वापस मांगने का
अधिकार मुझे नही होगा।
6. डी. डी. नामांकन/परिक्षा/पंजीयन अथवा अन्य सभी प्रकार के शुल्क के लिए केवल ‘‘संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़’’ के नाम पर बिलासपुर में देय ही जमा करूंगा/करूंगी।
7. परिक्षा उत्र्तीण करने के उपरांत गांवों में केवल वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा ही प्राथमिक उपचार एवं मार्गदर्शन करूंगा/करूंगी। अन्य पद्वति जैसे-एलोपथी,आर्युवेदिक,होम्योपैथी,युनानी का उपयोग नही करूंगा/करूंगी।
8. मुझे संस्थान के सभी नियम शर्त मान्य एवं स्वीकार हैं। नामांकन शुल्क 1500/-रू. का डी.डी. क्र..................
बैक का नाम ...................................................................... जारी दिनांक ................
प्रवेश आवेदन के साथ संलग्न है। अतः प्रवेश प्रदान करते हुए पत्राचार से अध्ययन के लिए नामांकन करने की कृपा करे।
कंडिका 1 से 8 तक की सभी नियम शर्त मुझे स्वीकार एवं मान्य है।

.....................................
आवेदक का फोटो आवेदक के हस्ता.




कार्यालय, ग्राम पंचायत ..................................
वि.खं. .............................. जिला ................................ छ.ग.
सहमति एवं प्रमाणिकरण
(सरपंच द्वारा भरा जावे)
प्रति,
श्रीमान् संचालक महोदय
स्वास्थ मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
ब्व्न्त्ैम् रू.क्प्च्स्व्ड। प्छ च्त्प्ड।त्ल् भ्म्।स्ज्भ् ब्।त्म् थ्त्व्ड ।स्ज्म्त्छ।ज्प्टम् डम्क्प्ब्प्छम्
विषय - आवेदक को प्रवेश प्रदान करने विषयक ।
महोदय,
उपरोक्त विषयान्र्तगत निवेदन है कि आवेदक को संस्था (लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान) के ‘‘स्वास्थ मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ’’ के द्वारा निर्धारित सभी नियमों एवं मानदंडो से अवगत करा दिया हुं , जो उसे स्वीकार्य है । अतः प्रवेश प्रदान करने की कृपा करे। नामांकन शुल्क का डी.डी. क्र. .....................................बैक का नाम ................................................................................ जारी दिनांक ....................... राशि 1500/-रू. का डी.डी. संलग्न है।
...............................
सरपंच के हस्ताक्षर.


सरपंच का घोषणा पत्र एवं प्रमाणीकरण
1. अभ्यर्थी का पुरा नाम श्री/श्रीमति/कु. ...............................................................................................
2. पिता/पति श्री ...........................................................माता का नाम श्रीमति......................................
3. जन्म तिथि (अंको में) ................................................... शब्दो में ..................................................
4. आयु 01 जनवरी 2011 को आयु वर्ष .................................माह ....................................दिन ...............
5. जाति..................................... वर्ग (अनु. जाति/अनु जन जाति/पिछड़ा वर्ग/सामान्य) ....................................
6. स्थायी पता ग्राम ....................................... पोस्ट.............................................. तह. ...................
जिला ............................................................. छ.ग. फोन नंबर ...............................................
7. वर्तमान पता ग्राम ............................... गा्रम पंचायत ......................... पोस्ट............................ तह. .....
जिला ........................................................... छ.ग. मोबाइल नंबर ..............................................
8. शैक्षणिक योग्यता ............................. विवि/बोर्ड ........................................................... सन्...........
9. मेडिकल अनुभव एवं योग्यता अगर हो तो विवरण देवे ...............................................................................
10. प्राइवेट प्रेक्टीस करते हो तो कब से विवरण देवे .....................................................................................
उपरोक्त सभी जानकारी मेरे ज्ञान एवं अनुभव के आधार पर सत्य व सही है। अतः उपरोक्त आवेदक को प्रवेश प्रदान करने की कृपा करे। आवेदक संस्था के सभी नियम एवं शर्तो को पढ़ एवं समझ लिया है, संस्था के सभी नियम शर्ते आवेदक को मान्य है। संस्था के हित को ध्यान में रखते हुए, संस्था के उद्देश्यों (स्वास्थ्य शिक्षा एवं वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार परिक्षा उत्र्तीण करने के उपरांत अवश्य करेगा) को पुरा करने के लिए कार्य करेगा। संपुर्ण फार्म में दी गई सभी जानकारी पुर्णतः सत्य है ।

स्थान .................. ..................................... ......................................
दिनांक ................. आवेदक के हस्ता. सरपंच के हस्ताक्षर एवं सील











कार्यालय, ग्राम पंचायत ..............................................
वि.खं. .............................. जिला ................................ छ.ग.
पंचायत की जनसंख्या .........................................
चिकित्सकों की सर्वे सुची
(सरपंच द्वारा भरा जावे)
प्रति,
श्रीमान् संचालक महोदय
स्वास्थ मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
विषय - चिकित्सकों की सुची विषयक ।
संदर्भ:- आपके पत्र क्र. .......................... के परिपेक्ष्य में।
महोदय,
उपरोक्त विषयान्र्तगत निवेदन है कि चाहे गये जानकारी इस प्रकार है -

क्र. चिकित्सक का नाम पता शैक्षणिक योग्यता कब से प्रेक्टीस कर रहे है झोलाझाप/पंजीकृत है
एवं पिता/पति का नाम


हमारे पंचायत मे कुल ......................... पंजीकृत चिकित्सक है।
पंचायत में कुल .............................झोलाझाप/अप्रशिक्षित चिकित्सक है।
वर्तमान में यहां पंजीकृत/प्रशिक्षित चिकित्सक की आवश्यकता है/नही है................................................................

स्थान ........................ .......................................
दिनांक ...................... सरपंच के हस्ताक्षर एवं सील

’पंजीकृत चिकित्सक ः- ऐसे चिकित्सक जिन्होनें कही से प्रशिक्षण प्राप्त किया है, और जिनका पंजीयन प्रमाण पत्र है।
’झोलाझाप चिकित्सक ः- ऐसे चिकित्सक जिन्होंने ना कही से प्रशिक्षण प्राप्त किया है, और ना कही पंजीयन है।
’यह सर्वे जनहित में संस्थान द्वारा की जा रही है, कृपया सही जानकारी देते हुए सहयोग प्रदान करने की कृपा करे।



स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
;क्प्च्स्व्ड। प्छ च्त्प्ड।त्ल् भ्म्।स्ज्भ् ब्।त्म् थ्त्व्ड ।स्ज्म्त्छ।ज्प्टम् डम्क्प्ब्प्छम्द्ध 10 माह पत्राचार

योजना प्रस्तावना -
इस कार्यक्रम के तहत छत्तीसगढ़ के सभी पंचायत से प्रति एक हजार की जनसंख्या पर एक 10 वीं /12 वीं उत्र्तीण व्यक्ति को 10 माह तक क्पचसवउं पद च्तपउंतल भ्मंसजी ब्ंतम थ्तवउ ंसजमतदंजपअम उमकपबपदम वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली (प्राकृतिक चिकित्सा, योग चिकित्सा, एक्युप्रेसर चिकित्सा, एक्युपंचर चिकित्सा, बायोकैमी चिकित्सा, इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा, पुष्प चिकित्सा, मसाज चिकित्सा एवं अन्य वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली) का प्रशिक्षण दिया जावेगा। प्रशिक्षण पश्चात् प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र दिया जावेगा।
इस कार्यक्रम के तहत सभी पंचायत के सभी झोलाझाप/अप्रशिक्षित/अपंजीकृत चिकित्सकों को अल्टरनेटिव मेडिकल सिस्टम में पत्राचार से प्रशिक्षण, मार्गदर्शन शिक्षा देकर झोलाझाप अप्रशिक्षित चिकित्सकों की संख्या कम करना है। उन्हे वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली (बायोकैमी, इलेक्ट्रोहोम्योपैथी, हर्बल, चुम्बक, एक्युप्रेसर, योग, ध्यान, रैकी, गौ मुत्र चिकित्सा आदि वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली) में प्रशिक्षित करना है।
वर्तमान में झोलाझाप चिकित्सक प्रशिक्षण, धन, समय एवं रोजगार के अभाव में कही से थोडे़ जानकारी लेकर सीधे एलोपैथी एवं आर्युवेदिक चिकित्सा प्रणाली का प्रयोग कर रहे है, जो शासन के नियमोे का खुला उल्लंघन है, जो गैर कानुनी एवं दंडनीय अपराध है। झोलाझाप चिकित्सक जनता को लाभ पहुचाने के साथ हानि भी पहुचा रहे हैै। इस लिए संस्थान इनको वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली की शिक्षा देकर इनको वैकल्पिक चिकित्सा पद्वति में लोगो का प्राथमिक चिकित्सा करने की शिक्षा प्रदान करना
चाहती है।
सफलता पूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त करने के पश्चात् लोगों को स्वास्थ्य विषयक शिक्षा देंगे एवं आवश्यकता पड़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार करेगे। अपने गांव के सभी लोंगों को जागरूक करेंगे, उन्हें स्वास्थ्य विषयक जानकारी प्रदान करेंगे, उन्हें पुराने रूढ़ीवादी विचारधारा एवं परंपराओं से बाहर निकालने का प्रयास करंेगे।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के उद्देश्य -

1. लोंगों मेें स्वास्थ्य जागरूकता लाना।
2. पहुच विहीन एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे प्रशिक्षित व्यक्ति (छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मित्र) गांव में उपलब्ध (अपने प्रशिक्षण कार्यक्रम से प्रशिक्षित कर) कराना जो लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करा सके।
3. प्रत्येक गांव में ऐसे जन सेवक तैयार करना जो आवश्यकता पड़़ने पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली द्वारा प्राथमिक उपचार करे और उन्हेे जागरूक करे।
4. स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में शासन द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन में सहयोग करना एवं उनकी विस्तृत जानकारी देना एवं ग्रामीण जनता को लाभ लेने के लिए प्रेरित करना।
5. गांव के लोगो को सभी रोगो के बारे जानकारी एवं उनसे बचाव के साधनों के प्र्रयोग के लिए प्रेरित करना।
6. स्वास्थ्य क्षेत्र के भ्रांतियों एंव अंधविश्वासों को दुर करने का प्रयास करना।
7. प्रत्येक गांव की झोलाझाप/अप्रशिक्षित चिकित्सकों की सुची तैयार करना, एवं उन्हें उनके आवेदन पर वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली मे 10 माह तक पत्राचार से प्रशिक्षण/मार्गदर्शन उपलब्ध कराना।


प्रशिक्षण/अध्ययन

नामांकन के पश्चात् छात्र के पास सिलेबस भेजा जावेगा। सिलेबस के अनुसार आवेदक अपने घर में ही अध्ययन करेगा अथवा किसी पंजीकृत चिकित्सक के मार्गदर्शन मे उनके पास रहकर करेगा।

परिक्षा

परिक्षा प्रधान कार्यालय लोरमी में आयोजित की जावेगी। अथवा परिक्षा सामाग्री डाक से परिक्षार्थी के पास भेजी जा सकती है। परिक्षा प्रवेश/नामांकन के 10वें माह आयोजित की जावेगी।

परिक्षा परिणाम

परिक्षा परिणाम प्रधान कार्यालय के सुचना पटल पर देखी जा सकेगी।

प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र जारी करना

परिक्षा उत्र्तीण करने वाले छात्रो को कार्यक्रम के तहत ;क्प्च्स्व्ड। प्छ च्त्प्ड।त्ल् भ्म्।स्ज्भ् ब्।त्म् थ्त्व्ड ।स्ज्म्त्छ।ज्प्टम् डम्क्प्ब्प्छम्द्ध 10 माह पत्राचार से अध्ययन का प्रमाण पत्र दिया जावेगा।





पंजीयन प्रमाण पत्र जारी करना ( स्वास्थ्य मित्र का)
परिक्षा उत्र्तीण करने वाले सभी छात्रों को उनके आवेदन पर निर्धारित कर्तव्यों के तहत वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली में प्राथमिक उपचार एवं स्वास्थ्य जागरूकता लाने के लिए स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान करने के लिए पंजीयन की जावेगी।


अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स क्यो करे घ्

1. धन के बचत के लिए:-
आप अगर धनवान नही है, और डठठैए डक् कोर्स मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया से नही कर पा रहे है क्योंकि इनका शुल्क 5 से 10 लाख रूपये तक है।
तो अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स कम शुल्क (5 हजार रू. से 10 हजार रू.) में करे।
2. समय के बचत के लिए:-
आप अगर डठठैए डक् कोर्स मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया से नही कर पा रहे है क्योंकि इनमें चार-पांच साल तक का समय लगता है।
तो अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स कम समय (एक वर्ष से) में करे।
3. अगर आप अधिक पढे़ लिखे नही है तो:-
आप अगर डठठैए डक् कोर्स मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया से नही कर पा रहे है क्योंकि इनके लिए साइंस विषय के साथ 12वी 60 प्रतिसत अंकों में उत्तीर्ण होना आवश्यक है। या अन्य योग्यता पुरा नही कर पा रहे है।
तो अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स कम योग्यता (10 वीं उत्र्तीण के बाद) में करे।
4. अगर आपकी आयु अधिक हो गई है:-
अगर आपकी आयु कालेज/काउंसिल के नियमानुसार अधिक हो गई ।
तो अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स करे अगर आपकी आयु 18 वर्ष से अधिक है।
5. अगर आप कांपिटिसन एक्जाम फाइट नही कर पा रहे है:-
आप अगर डठठैए डक् कोर्स मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया से कोर्स करने के लिए कांपिटिसन एक्जाम में फेल हो जा रहे है।
तो अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स में सीधे प्रवेश प्राप्त करे।
6. कम समय, कम पैसे, कम पढे़ लिखे है और पंजीयन प्रमाण पत्र/इस क्षेत्र में कैरियर चाहते है तो:-
आप अगर डठठैए डक् कोर्स मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया से नही कर पा रहे है ,अगर आपके पास समस्या है।
तो अल्टरनेटिव मेडिकल कोर्स करे।




स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
;क्प्च्स्व्ड। प्छ च्त्प्ड।त्ल् भ्म्।स्ज्भ् ब्।त्म् थ्त्व्ड ।स्ज्म्त्छ।ज्प्टम् डम्क्प्ब्प्छम्द्ध 10 माह पत्राचार
शुल्क

आवश्यक शुल्क
आवेदन शुल्क ः- 500/-रू. नगद सरपंच को देय होगा, अगर सरपंच लेना चाहे तो
नामांकन शुल्क ः- 1500/-रु. डी.डी. संस्थान को देय, आवेदन पत्र के साथ
परीक्षा शुल्क ः- 525/-रू. डी.डी. संस्थान को देय, प्रवेश के 7 माह में
पंजीयन शुल्क ः- 350/-रू. डी.डी संस्थान को वार्षिक देय, परिक्षा उत्र्तीण करने के 1 माह उपरांत

एच्छिक शुल्क
अगर छात्र अध्ययन सामाग्री संस्थान से लेना चाहे तो संस्थान बाजार से पुस्तक लेकर छात्र को उपलब्ध करायेगा।
पाठ्यक्रम सामाग्री शुल्क ः- 1500/-रू. संस्थान को देय
प्रशिक्षण शुल्क नियमित ः- 1500/-रू. संस्थान को देय, प्रशिक्षण लेना चाहे तो प्रधान कार्यालय मे होगा

प्रवेश के लिए आवश्यक दस्तावेज

आवेदन पत्र के साथ संलग्न करे:-
1. 8वी, 10वी, 12वीं अंकसुची की छायाप्रति 2 प्रति
2. निवास प्रमाण की छायाप्रति 2 प्रति
3. नामांकन शुल्क राशि 1500/-रू का डी.डी. (किसी भी नजदीकी बैक से बनवाएं) ‘‘संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़’’ के नाम पर बिलासपुर में देय,
4. सरपंच का प्रमाणीकरण फार्म , सरपंच से प्रमाणित मुल प्रति
5. शपथ पत्र, नोटरी करा कर मुल प्रति
6. पहचान पत्र जैसे - मतदाता परिचय पत्र, राशन कार्ड, डाईविंग लाइसेंस, जन्म प्रमाण पत्र, किसी संस्थान द्वारा जारी परिचय पत्र, सरपंच द्वारा जारी पहचान पत्र इत्यादि मे से कोई एक की छायाप्रति दो प्रति
7. पासपोर्ट साइज कलर फोटो 5 प्रति
8. अनुभव प्रमाण पत्र (सरपंच/चिकित्क द्वारा जारी) मुल प्रति




आवेदक के लिए ध्यान देने योग्य बातें

1. सभी प्रकार की शुल्क/दान जमा होने के पश्चात् वापसी योग्य नही है।
2. शुल्क केवल डी.डी. के रूप में ही मान्य एवं स्वीकार होंगंे।
3. प्रशिक्षण पत्राचार माध्यम से होगा। आवेदक संस्थान द्वारा निर्धारित सिलेबस के आधार पर अध्ययन सामाग्री लेकर घर में अध्ययन करेगा । अथवा किसी भी पंजीेकृत चिकित्सक के मार्गदर्शन में उसके पास रहकर अध्ययन करेगा।
4. आवेदक का चयन होने के पश्चात् आवेदन फार्म भरकर, सभी प्रपत्र के साथ नामांकन शुल्क का डी.डी. पंजीकृत डाक द्वारा प्रधान कार्यालय के पते पर भेजना होगा। प्रधान कार्यालय का पता:-
आचार्य डी.पी. जोशी, संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ़, शासकीय कालेज के पास, मेन रोड लोरमी, जिला-बिलासपुर (छ.ग.)
5. प्रशिक्षण वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली का दिया जावेगा एवं प्रशिक्षण उपरांत इसी पद्वति का प्रयोग आवेदक को करना होगा। किसी अन्य पद्वति का प्रयोग मान्य नही होगा।

संस्थान की वैधानिकता संबंधी जानकारी

’ ‘‘लाइफ केयर वैकल्पिक चिकित्सा सेवा संस्थान’’ छत्तीसगढ़ शासन से छत्तीसगढ़ सोसायटी रजिस्ट्रीकरण अधिनियम 1973(44) के अधीन वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली के पठन-पाठन एवं शोध कार्य के लिए पंजीकृत है। पंजीयन क्रमांक - छत्तीसगढ़ राज्य 1411.

’ वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली के पठन-पाठन एवं प्रेक्टीस को माननीय उच्च न्यायालय जबलपुर म.प्र द्वारा वैघ घोषित किया गया है एवं किसी प्रकार का कोई रोक नही का निर्णय दिया गया है।
ूण्चण् दवण् 5553ध्1998 निर्णय दिनांक 22/03/1999.

’ ‘‘स्वास्थ्य मित्र’’ का पंजीयन भारत सरकार से ट्रेड मार्क रजिस्ट्रेशन एक्ट 1999 के अधीन पंजीकृत जिसके तहत स्वास्थ्य मित्र के संचालन/प्रयोग के लिए एकाधिकार प्राप्त. टी.एम. न. 1587936.

’ अन्य जानकारीयों के लिए निम्न पत्रों का अवलोकन किया जा सकता है:-

1. संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं छत्तीसगढ़ शासन रायपुर के पत्र क्रमांक लो.सू.अधि./एफ-702/09/1241 दिनांक 28/10/2009 का अवलोकन किया जा सकता है।

2. संचालनालय चिकित्सा शिक्षा छत्तीसगढ़ शासन रायपुर के पत्र क्रमांक 67/सु.अ./संचिशि/2010 दिनांक 06/03/2010 का अवलोकन किया जा सकता है।

3. छत्तीसगढ़ चिकित्सा मंडंल छत्तीसगढ़ शासन रायपुर के पत्र क्रमांक 49/सु.अ./संचिशि/2099 दिनांक 10/02/2010 का अवलोकन किया जा सकता है।

4. मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया नई दिल्ली भारत सरकार के पत्र क्रमांक एम.सी.आई.-34(1)/2009-(आर.टी.आई.) एम.इ.डी./80729 दिनांक 15/03/2010 का अवलोकन किया जा सकता है।

’ उपरोक्त कार्यक्रम का जांच थाना करतला जिला कोरबा के जावक पत्र क्रमांक 1110 दिनांक 13/12/2006 में किया गया जिसका रिप्लाई कार्यालय रजिस्ट्रार फम्र्स एवं संस्थाएं छत्तीसगढ़ के पत्र क्रमांक 2674 दिनांक 14/12/2006 द्वारा दिया गया। जिसमें संस्थान को अपने पंजीकृत उददेश्यों के लिए अपने पंजीकृत कार्यक्षेत्र संपुर्ण छत्तीसगढ़ में कार्य करने के लिए वैघ घोषित किया गया है।

’ उपरोक्त कार्यक्रम का जानकारी कार्यालय चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, बिलासपुर के पत्र क्रमांक मुचिअ/2006/12329 दिनांक 12/12/2006 के द्वारा जानकारी मांगा गया और माननीय महोदय द्वारा जांच किया गया और संतोष जाहिर किया गया जांच पश्चात् कार्यक्रम में किसी प्रकार का कोई रोक नही लगाया गया।

’ उपरोक्त कार्यक्रम का जानकारी कार्यालय अनुविभागीय अधिकारी एवं दंडाधिकारी मुंगेली के पत्र क्रमांक क/स्टेनो/अविअ/2006 दिनांक 21/12/2006 के द्वारा जानकारी मांगा गया और माननीय महोदय द्वारा जांच किया गया और संतोष जाहिर किया गया जांच पश्चात् कार्यक्रम में किसी प्रकार का कोई रोक नही लगाया गया।

अधिक जानकारी के लिए कार्यालय में संपर्क करे।
उपरोक्त जानकारी जनहित में संस्थान द्वारा प्रसारित है।






अधिक जानकारी
एवं चयन सुची/डाक
भेजने के लिए संपर्क करे:-

प्रधान कार्यालय:-
आचार्य डी.पी. जोशी,
संचालक, स्वास्थ्य मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम छत्तीसगढ
शासकीय कालेज के पास, मेन रोड लोरमी, जिला-बिलासपुर (छ.ग.)

मोबाइल 07898969589, 09424157138
thanks for visit

More details contect us :
www.cpenedu.com
email :- chairmain@cpenedu.com
09893354327, 09424757138


 






 

     
Powered by SynQues                   Chhattisgarh Professional Education & Network Pvt. Ltd. © 2010                  Disclaimer | Privacy Policy | Site Map